बात इतनी सी थी

बात इतनी सी थी ,कि तुम अच्छे लगते थे.
अब बात इतनी बढ़ गई,कि तुम बिन कुछ अच्छा नहीं लगता.

baat itanee see thee ,ki tum achchhe lagate the.
ab baat itanee badh gaee,ki tum bin kuchh achchha nahin lagata.

 

[wp_ad_camp_1]

वो मेरे दिल से बाहर निकलने का रास्ता न ढुंढ सके,
दावा करते थे जो मेरी रग-रग से वाकीफ होने का

vo mere dil se baahar nikalane ka raasta na dhundh sake
daava karate the jo meree rag-rag se vaakeeph hone ka

 

[wp_ad_camp_1]

कितनी अजीब है मेरे अन्दर की तन्हाई भी,हजारो अपने है मगर याद तुम ही आते हो

kitanee ajeeb hai mere andar kee tanhaee bhee,hajaaro apane hai magar yaad tum hee aate ho

 

[wp_ad_camp_1]

कभी तो हिसाब करो हमारा भी ,इतनी मोहब्बत भला कौन देता है उधार में

kabhee to hisaab karo hamaara bhee ,itanee mohabbat bhala kaun deta hai udhaar mein

 

[wp_ad_camp_1]

दिलो जान से करेंगे हिफ़ाज़त उसकी बस एक बार वो कह दे कि मैं अमानत हूं तेरी ।

dilo jaan se karenge hifaazat usakee bas ek baar vo kah de ki main amaanat hoon teree

admin

Related Posts

2 Line Shayri हम ख़ुद निशां बन गये

2 Line Shayri हम ख़ुद निशां बन गये

Love shayri mostly

ख्याल  भी  नही  आया …!!💞

लड़कियों की सूरत के अलावा इन अदाओं पर लड़के छिड़कते है अपनी जान

No Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *