Hindi Shayri and Status

New Hindi Shayri | Latest Staus | Trending Status

Tag: hindi shayari

बात इतनी सी थी

बात इतनी सी थी ,कि तुम अच्छे लगते थे. अब बात इतनी बढ़ गई,कि तुम बिन कुछ अच्छा नहीं लगता.

Read More

काश तुम मेरे होते

मेरे बारे में इतना मत सोचना , दिल में आता हूँ , समझ में नही । mere baare mein itana…

Read More

नज़र से दिल में उतरना, बड़ी बात नहीं,

इश्क की पतंगे उडाना छोड़ दी . वरना हर हसीनाओं की छत पर हमारे ही धागे होते.

Read More

तू मोहब्बत है मेरी इसीलिए दूर है

तू मोहब्बत है मेरी इसीलिए दूर है मुझसे… अगर जिद होती तो शाम तक बाहों में होती ।

Read More

थोड़ा सा अपनी चाल बदल कर चलो;

मशहूर हो गया हूँ तो ज़ाहिर है दोस्तो; इलज़ाम सौ तरह के मेरे सर भी आयेंगे;

Read More

अब किसी सहारे की बात मत करना;

वफ़ा करने से मुकर गया है दिल; अब प्यार करने से डर गया है दिल;

Read More

महोब्बत में मिली थी नफरत उसे भी शायद;

वो पानी की लहरों पे क्या लिख रहा था; खुदा जाने हरफ-ऐ-दुआ लिख रहा था;

Read More

तेरे इश्क़ में ऐ बेवफा, हिज्र की रातों के संग;

हर पल कुछ सोचते रहने की आदत हो गयी है; हर आहट पे चौंक जाने की आदत हो गयी है;

Read More

या फिर लौट कर समंदर से वफ़ा निभाती हैं।

ना जाने क्या सोच कर लहरें साहिल से टकराती हैं; और फिर समंदर में लौट जाती हैं;

Read More

जब तक ना लगे ठोकर बेवाफ़ाई की;

हर धड़कन में एक राज़ होता है; बात को बताने का भी एक अंदाज़ होता है;

Read More

चाहते तो हम भी हैं कि आपसे अब न मिलें;

जो ज़ख्म दे गए हो आप मुझे; ना जाने क्यों वो ज़ख्म भरता नहीं;

Read More

बहुत टूट कर चाहा जिसको हमने;

कभी ग़म तो कभी तन्हाई मार गयी; कभी याद आ कर उनकी जुदाई मार गयी;

Read More

कि तेरे बाद कोई बेवफ़ा न लगे।

तेरे इश्क़ ने दिया सुकून इतना; कि तेरे बाद कोई अच्छा न लगे;

Read More

तेरे इश्क़ में ऐ बेवफा, हिज्र की रातों के संग;

हर पल कुछ सोचते रहने की आदत गयी है; हर आहट पे च चौंक जाने की आदत हो गयी है;

Read More

जब जाम मिला बेवफाई का तो;

एक बार रोये तो रोते चले गए; दामन अश्कों से भिगोते चले गए;

Read More